Homeघरेलू उपाय

खाँसी को ठीक करने के अचूक उपाय- Cough Treatment in Hindi

Menu English

अगर आपको काफ़ी समय से खांसी की problem है तो हम समझ सकते हैं कि आप कितने दुःख में होंगे. खांसी मुख्यत जुकाम या फ्लू का side effect होता है. लेकिन इसका मतलब ये नहीं की इसी की वजह से होती है आपको खांसी लर्जी, अस्थमा, एसिड रिफ्लक्स, शुष्क हवा और कुछ दवाओं के कारण भी लग सकती है. खांसी में हम अपने job पर भी concentrate नहीं कर पाते. जिन लोगों की job ही call center की या फिर ऐसी field की हो जहाँ बात ज्यादा करनी पड़े उनका तो बुरा हाल हो जाता है खांस-खांस के. कभी-कभी तो खांसी इतनी ज्यादा बढ़ जाती हैं कि रात को सोना तक मुश्किल हो जाता है. ऐसे में आप कुछ medical दवाई लेते हैं मगर इसके कुछ side effect भी हमारे शरीर को होते है. हम इस article में आपको कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपाय या घरेलु नुस्खे बतायेंगे जिनकी मदद से आप अपनी खांसी को घर पर ही ठीक कर सकते हैं वो भी बिना किसी medicine की मदद से. (khansi ko thik karne ke achuk upaye)

खाँसी को ठीक करने के अचूक उपाय- Cough Treatment in Hindi

खाँसी को ठीक करने के उपाय – Khansi Thik Karne Ke Upaye

1. नमक के पानी से गरारे करना है बेहतर

नमक के पानी को खराश के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है. लेकिन अगर आपके गले में सूजन है तब भी आप इसे इस्तेमाल कर सकते हैं. आप 1 गिलास पानी में आधा छोटा चम्मच नमक डालें और इसे अच्छी तरह से उबाल लें. जब ये थोड़ा सा कोसा हो जाए फिर आप इसके गरारे कीजिए. गरारे करते हुए पानी को बाहर थूकें. पानी को अन्दर नहीं घुटना है. इस प्रक्रिया में ध्यान रखें की पानी ज्यादा ठंडा भी नहीं होना चाहिए. जितना ज्यादा पानी गर्म होगा उतना आपके गले को लाभ मिलेगा. मगर इसका ये मतलब भी नहीं है की आप अपना गला ही जला लें.

2. गर्म भाप की सांसें लें 

गर्म भाप की साँस लेना आपके लिए खांसी में बहुत लाभकारी है. आप पानी को अच्छी तरह से गर्म करें और उसे किसी ऐसे बर्तन में डालें जिसका मूंह ऊपर से छोटा हो ताकि ज्यादा भाप बहार न जाए और पानी जल्दी ठंडा न हो जाए. आप अच्छी तरह से इसकी भाप लें. ये आपकी गले की खुश्क हवा को नर्म करती है जिससे की आपको खांसी से राहत मिलती है. जुकाम, एलर्जी और अस्थमा के कारण होने वाली खांसी में बहुत भी ये विधि बहुत मददगार होती है.

3. गर्म तरल पदार्थ पीएँ

आप ठंडा पानी और cold drink से बचें. दहीं खाने और खट्टी चीज़ों का भी परहेज करें. आप गर्म पानी और हो सके तो सूप पिएँ. दिन में कम से कम 2-3 बार soup जरुर पिएँ और उसी soup का चुनाव करें जो healthy हो. जोकि आपकी बलगम वाली खांसी को दूर करेगा.

खांसी के घरेलु उपाय – Khansi Ke Gharelu Upay

1. शहद

शहद खांसी और गले की ख़राश को ठीक करने का सबसे अच्छा तरीका है. Research में यह पाया गया है शहद बहुत ही जल्दी से आपकी खांसी तो ठीक करता है और कई बार तो ये भी देखा गया है कि ये सामान्यतौर पर मिलने वाली खांसी की दवाइयों से भी जल्दी खांसी को ठीक करने में सहायक होता है. वैसे तो ये हर उम्र के लोगों के लिए ठीक है मगर 1 साल से छोटे बच्चे को इसे न दें. इसे लेने का सही तरीका है कि आप हर एक घंटे के बाद शहद का एक चम्मच लेते रहें.

2. तुलसी के पत्ते और शहद (बच्चों के लिए )

अगर आपको खांसी से आराम नहीं मिल रहा है तो तुलसी के कुछ पत्ते लीजिए और उसे अच्छे से पीसकर उसका रस निकल लें. जब इसका रस निकल जाए तो इसे एक कटोरी में डालकर इसमें शहद मिला दें. अब इस बने हुए मिश्रण को एक चम्मच लें और गर्म करके बच्चे को दिन में 3-4 बार दें. इससे बच्चे को खांसी में आराम मिलेगा.

3. हल्दी

हल्दी एक ऐसी औषधि है जो हर घर में आम ही मिल जाएगी. खांसी होने पर आप हल्दी पाउडर का आधा चम्मच गर्म ढूध में मिला लें. अब इस दूध को पिएँ. अगर आपको सुखी खांसी है तो इसमें आप शहद का एक चम्मच मिला लें.

4. गुड़ से थूक से छुटकारा पाएँ

थोड़ी सी काली मिर्चों को आप अच्छे से 15-20 तक पानी में उबाल लें. अब इसमें गुड और जीरे को पीसकर मिश्रण बना लें. और इसको थोड़ी-थोड़ी देर बाद खाते रहें. अगर आपके श्वसन तंत्र में ज्यादा थूक का जमाव हो गया है तो आप प्याज का एक चोथाई हिस्सा लेकर उसमे गुड़ का एक टुकड़ा रखकर चबाएँ जोकि आपको काफ़ी राहत देगा.

खांसी को जल्दी ठीक करने के आयुर्वेदिक नुस्खे – Khansi Jaldi Thik Karne Ke Ayurvedic Nuskhe

1. लहसुन 

एक छोटा चम्मच देसी घी लें और उसमे 3-4 तली हुई लहसुन की कलियाँ मिलाकर खाएँ. इससे आपको सर्दी और खांसी से काफी रहत मिलेगी.

2. काली मिर्च (वयस्कों के लिए) 

अगर आप खांसी से बहुत ज्यादा परेशान हैं तो काली मिर्च, नमक के साथ जीरे को अच्छे से पीस लें. इसके मिश्रण का सेवन करने से आपको खांसी में जल्दी राहत मिलेगी. मगर ये बच्चों को देना बिलकुल भी ठीक नहीं है. इसका सेवन केवल व्यस्क ही कर सकते हैं.

3. मुलैठी की चाय

मुलैठी की जड़ गले की सूजन को कम करके श्वासतंत्र में राहत दिलाता है. मुलैठी की सुखी जड़ को एक मग में रखें और और उबलता हुआ पानी उसमे डालें. अब थोड़ी देर इसकी भाप लें. अगर आपको kidney का कोई रोग है या आप steroid लेते है फिर तो आपके लिए मुलैठी की चाय पीना बहुत ही फायदेमंद है.

4. अदरक और पिपरमिंट

3 कप पानी में 2 बड़ी चम्मच कटी हुए अदरक और एक बड़ी चम्मच सुखी पिपरमिंट मिला लीजिए. अब इन्हें गर्म करने के लिए रख दें. आंच को तेज करके ही रखें जब ये मिश्रण अच्छी तरह से उबल जाए तो आंच को थोडा कम करके इसे कढ़ने के लिए छोड़ दें. जब ये अच्छी तरह से कढ जाए तो इसे छानकर किसी बर्तन में डालकर ठंडा होने दें. अब 1 कप शहद इसमें मिलाए और अच्छी तरह घोल लें. अब आपको रोज़ाना हर घंटे में इसका एक बड़ा चम्मच लेना है. ध्यान दें की इस घोल को केवल 3 सप्ताह तक ही refrigerator में रखा जा सकता है.

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *